Wednesday, October 13, 2021
Homeबिहारसमस्तीपुरA.I.S.A. ने किया कुलपति का पुतला दहन।

A.I.S.A. ने किया कुलपति का पुतला दहन।

अनशनकारियों से सम्मानजनक बर्ता नहीं करने के खिलाफ आइसा (A.I.S.A.) ने जुलूस निकालकर किया कुलपति का पुतला दहन, डिस्टेंस एजुकेशन एवं पीजी की पढ़ाई शुरू कराने व अन्य 30 सूत्री मांगों को लेकर वि वि कैंपस में 26 जुलाई से जारी है आमरण अनशन – आइसा। अनशन कारियों से कुलपति करे सम्मानजनक वार्ता नहीं तो कल होगा विश्वविद्यालय में तालाबंदी।

समस्तीपुर A.I.S.A.

आइसा के दर्जनों कार्यकर्ताओं ने बी.आर.बी. कॉलेज कैंपस से जुलूस निकालकर विभिन्न मार्गो का भ्रमण करते हुए बी.आर.बी. कॉलेज गेट पर पहुंचकर एक सभा का आयोजन किया। जिसका अध्यक्षता आइसा के कार्यालय सचिव राजू झा तथा संचालन जिला उपाध्यक्ष मनीषा कुमारी ने की। सभा के बाद मिथिला विश्वविद्यालय के कुलपति का पुतला दहन किया गया।

सभा को संबोधित करते हुए आइसा जिला सचिव सुनील कुमार ने कहा की ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय,दरभंगा के दूरस्थ शिक्षा निदेशालय को चालू करने,नालंदा खुला विश्वविद्यालय के तर्ज पर उत्तर बिहार में खुला विश्वविद्यालय खोलने,लॉ की पढ़ाई पुनः चालू करने,ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के दूरस्थ शिक्षा निदेशालय में फर्जी रूप से बहाल सहायक कुलसचिव को पद मुक्त करने, बी. आर. बी. कॉलेज एवं महिला महाविद्यालय समस्तीपुर में इसी सत्र से पीजी की पढ़ाई व आर. बी. कॉलेज दलसिंहसराय में वाणिज्य विषय की पढ़ाई शुरू कराने, ल. ना. मि. वि. वि. के कुलसचिव जिन पर कई भ्रष्टाचार के आरोप है उनको मुक्त करने,मिथिलांचल में केंद्रीय विश्वविद्यालय की स्थापना करने,सभी वर्ग के महिलाएं एवं एससी/ एसटी छात्रों का निशुल्क नामांकन करने, रिटायर शिक्षक कर्मचारियों को पेंशन देने एवं कन्या उत्थान की राशि सभी छात्राओं को अविलंब भुगतान करने समेत अन्य 30 सूत्री मांगों को लेकर 26 जुलाई से आइसा के पांच साथी अनिश्चितकालीन आमरण अनशन पर बैठे हैं।

वि. वि. प्रशासन से दो दौर की वार्ता प्रोवीसी, छात्र कल्याण अध्यक्ष, प्रॉक्टर, परीक्षा नियंत्रक से हुई है लेकिन सकारात्मक वार्ता नहीं होने के कारण अनशन आज तीसरा दिन भी जारी है। अनशन कारियों का हालत विगर रहा है। अनशन कारियों से कुलपति द्वारा सकारात्मक वार्ता नहीं करने के खिलाफ आज विश्वविद्यालय के चारों जिला में कुलपति एवं रजिस्टार का संयुक्त रूप से पुतला जलाकर विरोध किया गया है।
वही आइसा नेताओं ने कहा कि यदि आज अनशन कारियों से कुलपति सम्मानजनक वार्ता नहीं करते है तो 29 जुलाई को चारो जिला के छात्र विश्वविद्यालय में आ कर तालाबंदी करेगी।

प्रियांशु कुमार समस्तीपुर। स्वराज ख़बर।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments