बिहार : कुम्हरार विधान सभा क्षेत्र से पिछले 3 बार से चुनाव जीतते आ रहे अरुण सिन्हा पर से इस बार कुम्हरार की जनता का विश्वास ख़त्म हो गया है। सभी का मानना है कि यंहा विकाश के नाम पर सिर्फ ठगी हुए है। अरुण सिन्हा सिर्फ चुनाव के समय ही दीखते हैं फिर उनका पता भी नहीं होता है। बहुतों ने तो ये भी कहा कि अरुण सिन्हा का अब 15 साल होने को है मगर उन्हें हमने आज तक देखा भी नहीं है। बरसात के दिनों में रास्ता पानी से भर जाता है उस समय ऐसी स्थिति हो जाती है की पिने के लिए पानी भी नशीब नहीं होता है ,क्यूँकि लाइट बाधित रहती है निचे घर में पानी आ जाता है और मोटर भी जल जाता है ऐसे में बहुत साडी मुश्किलों का सामना करना परता है। फिर भी अरुण सिन्हा का कुछ पता नहीं होता। जनता का कहना है कि 3 बार से हमने अरुण सिन्हा को चुनाव जीता कर देख लिया है मगर इस बार यंहा के लोगो ने ये फैसला लिया है की इस बार नया उम्मीदवार को ही वोट दे कर जितना है।


आखिर पिछले 3 बार से अरुण सिन्हा को ही वोट क्यों दे रही थी जनता
जब हमने लोगों से ये पूछा कि अरुण कुमार से जब इतना नाराज थे तो फिर भी पिछले 3 बार से उन्हें चुनाव क्यों जिता रहे थे। तो लोगों का जो जवाब था वो आश्चर्य कर देने वाला था। सभी का यही कहना था कि अरुण सिन्हा के माथे पर जो बीजेपी का मोहर लगा हुआ है उसके लिए। इतना ही नहीं उन्होंने यह भी कहा कि बीजेपी जिसे भी मैदान में उतार देती हम उसे वोट देते हमे अरुण सिन्हा से कोई मतलब नहीं था। हमे विश्वास था तो बस एक मात्र बीजेपी पर, कि उसने जिसे खड़ा किया है हमारे लिए वो जरूर ठीक ही होगा। और हर बार हमने यही सोंच कर अरुण सिन्हा को वोट दिया कि वो अब सुधरेंगे और हमारे लिए सोंचेंगे मगर ऐसा नहीं हुआ।
जनता ने अरुण सिन्हा के खिलाफ उतारा मधुमेश चौधरी को
मधुमेश चौधरी जो की बीजेपी के महा मंत्री है लोगो के आग्रह पर अरुण सिन्हा के खिलाफ मैदान में निर्दलीय के रूप में उतरे है, मधुमेश चौधरी का कहना है कि वे बीजेपी के साथ है मगर अरुण सिन्हा के नहीं। अरुण सिन्हा ने जो कुम्हरार विधान सभा क्षेत्र में विकाश के नाम पर ठगी की है उसे सुधारना है और कुम्हरार में विकाश लाना है।
इन सभी बातो में ध्यान देने वाली बातें है तो ये कि यंहा जनता और मधुमेश चौधरी दोनों बीजेपी के साथ है। और बीजेपी ने भी अभी तक मधुमेश चौधरी को अपने पार्टी से निष्कासित नहीं किया है। तो कंही न कंही ऐसा लगता है कि इस बार अरुण सिन्हा की जीत में अर्चने आ सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here