nawjat

स्वराज खबर – 8 दिन बीतने को है और नवजात चंद्रशेखर आज़ाद अभी तक लापता है। सुशासन की बात करने वाली सरकार के नुमाइंदे चंद्रशेखर आज़ाद पर कुछ भी कहने से मुक़रते नज़र आ रहे है। बात उस चंद्रशेखर आज़ाद की जिसका जन्म 15 अगस्त 2020 को शेखपुरा के सदर अस्पताल में हुआ था | और 16 अगस्त को नन्हे आज़ाद की चोरी हो गयी | नवजात के पिता ने बताया कि बच्चा 15 अगस्त को हुआ था इसी लिए उसका नाम चंद्रशेखर आजाद रखा। इन्होने बताया कि बच्चे के डिस्चॉर्ज होने के कुछ देर पहले अस्पताल के स्टाफ ने बच्चे और माँ के पास से बहाना कर के पिता और बच्चे की दादी को वहां से हटा दिया ।और चंद मिनटों में बच्चे को माँ से ले लिया। जैसे ही इसकी जानकारी पिता को हुई अपने बच्चे को अस्पताल में ढूंढने लगा | अस्पताल के स्टाफ से यकीन हो जाता है कि उसका बच्चा चोरी हो गया है| इसकी जानकारी वो अस्पताल के अधिकारी को देता है और फिर थाना को लेकिन थाना भी तत्काल मदद करने से इंकार कर देती है। पिता साफ-साफ अस्पताल प्रशासन को ज़िम्मेवार ठहरा रहा है। उनका कहना है कि ये साजिश है अस्पताल की ,इतने कैमरे लगे होने के बावजूद भी कैमरा में कुछ नहीं आया। अब आप सोंच सकते हैं कि बन्द कैमरे के पीछे क्या होता होगा।
स्वराज खबर की बात जब बच्चे की पिता से होती है तो आप भी सुनिए कि क्या कुछ कहा उन्होंने……..

.चंद्रशेखर आज़ाद का पिता और माँ

तो आपने सुना की कैसे एक पिता अपने बच्चे की आश लगाए हुए बैठा है । और 15 अगस्त को बच्चे का जन्म होने की वजह से उसका नाम चंद्रशेखर आजाद रखा। अब देखना यह है की नेता जी चुनाव में अपनी कुर्सी बचाने में व्यस्त रहेंगे या फिर इस पिता की गुहार भी सुनेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here