बिहार सरकार बिना मैदान के खेल रही हॉकी|और मज़े में हैं बिहार ओलंपिक के पदाधिकारी

0
34

पटना:- पूर्व हॉकी खिलाड़ी राणा प्रताप सिंह ऊर्फ मुकेश ने आरोप लगाया हैं कि बिहार में खेल विभाग द्वारा हॉकी के सरकार एवं उनके पदाधिकारी  खिलवाड़ किये जा रहे है, राणा ने बताया बिहार राज्य में हॉकी खिलाड़ियों के लिए एक भी खेल का  मैदान उपलब्ध नहीं है जिसमे राष्ट्रीय स्तर का खेल का आयोजन किया जा सके, साथ हि बिहार की राजधानी पटना में एक भी घास का हॉकी खेल मैदान नहीं हैं जहां खिलाड़ी अभ्यास कर सके, इसका खुलासा राणा के द्वारा दिए गए #RTI में हुआ था

Photocopy of information received by Rana…….

जो कला संस्कृति युवा विभाग के निदेशक संजय सिन्हा को दिया था उस #RTI के जवाब में खुद निदेशक ने  स्वीकार किया है की बिहार में एक भी हॉकी खेल मैदान नहीं है, राणा ने कहा अभी वर्तमान में बीएमपी खेल परिसर से भी खिलाड़ियों को रोक दिया गया है अब खिलाड़ी जाए तो जाए कहा यंहा तक की बिहार ओलंपिक संघ ने भी खिलाडियो के प्रति हाँथ खड़े करते हुए अपना पल्ला झाड लिया  किसी को खिलाड़ियों से कोई लगाव नहीं दिख रहा , जबकि 2011में ही पटना स्थित फिजिकल कॉलेज में माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार  के द्वारा हॉकी स्टेडियम का सिलन्यास किया जा चुका है लेकिन 9वर्ष बीत गय अभी तक उस पर कोई कार्य नहीं शुरू हो पाया और मामले को ठंडे बस्ते डाल दिया गया , वही इस मामले को लेकर खेल मंत्री को भी कई बार राणा ने पत्र लिख कर इस पर करवाई की मांग कर चुके है ,राणा ने बताया कि इसी संदर्भ में बिहार लोक शिकायत निवारण के माध्यम से शिकायत दर्ज करा कर मांग उठाई थी जिसके निराकरण के लिए 10 जुलाई को समय दिया गया था लेकिन कोरोना का हवाला देकर उस दिन सुनवाई टाल दी गई थी, इस पर राणा ने कला संस्कृति निदेशक संजय सिन्हा जी से फोन पर बात की तो उनसे भरोसा दिया गया था कि बहुत जल्द इसपर दूसरी तिथि में सुनवाई होगी और उसी क्रम में राणा के परिवाद पर 7/8/2020की तिथि निर्धारित की गई ,राणा ने कहा इस मामले के निराकरण के लिए मै खुद सभी पत्र और आरटीआई के साथ उपस्थित रहा और अपनी शिकायत से अवगत कराया जिसपर जल्द करवाई की भरोसा दिया भी दिया गया है लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी द्वारा,

Mobile receiving of information received by Rana…….. swaraj khabar

आगे लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी ने कहा कि इस संदर्भ में विभाग के पदाधिकारी से जवाब मांगा जाएगा कि 2011में मुख्यमंत्री के हॉकी स्टेडियम के लिए पटना स्थित फिजिकल कॉलेज में सिलन्यास के बावजूद अभी तक वहां कार्य क्यो नही शुरू हो पाया साथ इस शिकायत पर दूसरी सुनवाई की तिथि भी इसी महीने 24अगस्त को लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी द्वारा निर्धारित कर दिया गया है ,इस मामले में राणा ने आज भी खेल मंत्री को पत्र देकर इसमें करवाई की मांग की है , साथ ही राणा ने मीडिया के माध्यम से आगाह किया है कि खेल दिवस से पूर्व खेल विभाग हॉकी खिलाड़ियों की मांग पर अपनी रुख रुखा स्पष्ट नहीं करती है तो खेल विभाग के खिलाफ एक बड़ा आन्दोलन छेड़ सकते है , जिसमे खेल सम्मान समारोह का बहिष्कार सहित खेल विभाग के ऑफिस के सामने हॉकी खेलने जैसे कई तरह को विरोध को भी शामिल किया जा सकता है, हॉकी के साथ खेल विभाग का अब तक निराशाजनक और दोयम दर्जे का कार्य रहा है ।

Mobile receiving of information received by Rana 2

वाईट मुकेश सिंह राणा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here