Home अपराध दादा बना हत्यारा- पोती की ले ली जान

दादा बना हत्यारा- पोती की ले ली जान

गोपालगंज : मांझा प्रखंड स्थानीय थाना क्षेत्र पथरा गांव में सीता राम भगत और जगु भगत विच जमीनी में हिस्सा के लिए आपसी विबाद चल रहा था ।जिसको लेकर बुधवार की सुबह में जमकर मारपीट हो गयी जिसमे चचेरे कलयुगी दादा भगत ने अपने भतीजे सीता राम भगत से उसकी दुधमहे बेटी रागनी जो की मात्र चार माह की थी को छीनकर जमीन पर पटक दिया, जिससे बच्ची गम्भीर रूप से घायल हो गयी , घायल बच्ची को इलाज हेतु सदर अस्पताल गोपालगंज में भर्ती कराया गया. मगर इलाज के दौरान ही बच्ची ने दम तोड़ दिया। वही माँ पूनम देवी तथा पुरे परिवार रो -रो कर अपनी बेटी के लिए इंसाफ की गुहार लगाया लगा रही है ,उनका कहना है की आखिर बच्ची का इसमें क्या गलती था.घटना के अंजाम देने वाले जगु भगत सहित पांच लोगो के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। अभियुक्त घर छोड़ कर फरार है । मांझागढ़ थाना प्रभारी छोटन कुमार ने इसकी जानकारी देते हुए कहा है कि घटना के अंजाम देने वाले पांच लोगों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कर अभियुक्तों के गिरफ्तारी के लिए छपेमारी की जा रही है। अभियुक्त घर छोड़ कर फरार है। लेकिन पुलिस से कब तक भाग कर छिपते रहेंगे जल्द ही, गिरफ्तार कर लिए जाएंगे ।

रिपोर्टर बिजय कुमार ,गोपालगंज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

बीजेपी के कार्यकर्ताओं द्वारा जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ताओं पर जानलेवा हमला किया जाना निंदनीय है।

लखीसराय: जिले के पार्टी कार्यालय में जन अधिकार सदस्यों ने की प्रेसवार्ता,दरअसल जाप के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव के दिशा निर्देश पर...

एनडीए को भुगतना पड़ेगा खामियाजा पूर्व सांसद आनंद मोहन के पुत्र चेतन आनंद ने कहा आज

एनडीए को भुगतना पड़ेगा खामियाजा नीतीश कुमार के वादा खिलाफी का । आनंद मोहन को रिहा नही किये जाने से लोग...

आज रविवार को चुनाव को लेकर पत्रकारों संग एसडीओ ने किया बैठक

पालीगंज| रविवार को अनुमंडल कार्यालय में आगामी बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर एसडीओ ने पत्रकारों के संग बैठक बुलाई।जानकारी के अनुसार आगामी...

चार गांवों की मतदाताओं ने लिया बड़ा फैसलारोड नही तो वोट नही के तौर पर मतदान का करेंगे बहिष्कार

पालीगंज: रविवार को पालीगंज प्रखण्ड के बहेरिया निरखपुर गांव स्थित शिव मंदिर परिसर में महेशपुर, छोटकी निरखपुर, बड़की निरखपुर व सिद्धिपूर गांव...

Recent Comments