Home bihar news डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय सुशांत मामले में महाराष्ट्र पुलिस के रवैये से भड़क...

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय सुशांत मामले में महाराष्ट्र पुलिस के रवैये से भड़क गए हैं।

पटना, स्वराज ख़बर
सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच के दरमयान  बिहार और महाराष्ट्र की पुलिस आमने-सामने आ गई है। बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने बताया कि उन्होंने कई बार महाराष्ट्र के डीजीपी एवं  मुंबई के पुलिस कमिश्नर को कॉल किया। इतना ही नहीं, मैसेज भी भेजा। किंतु किसी ने फोन रिसीव किया। न ही मैसेज का जवाब दिया। हैरत तो यह कि बिहार के गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव ने महाराष्ट्र के गृह विभाग के आला अधिकारियों से कई बार बात करने की कोशिश की। किंतु महाराष्ट्र सरकार के किसी अधिकारी ने एक बार भी बिहार के किसी अधिकारी का कोई नोटिस नहीं लिया। डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि मुंबई पुलिस सुशांत के मामले की अभियुक्त रिया चक्रवर्ती की भाषा बोल रही है। मुंबई पुलिस का सारा एक्शन वही है, जो रिया चक्रवर्ती चाहती-बोलती रही है। रिया कह रही है कि बिहार पुलिस सुशांत मामले की जांच नहीं कर सकती है। महाराष्ट्र पुलिस भी उसी बात को दुहरा रही है और अमल भी कर रही है। डीजीपी ने कहा कि जांच में व्यवधान के बावजूद वे अभी तक मुंबई पुलिस के खिलाफ कुछ नहीं बोल रहे थे। किंतु अब मुंबई पुलिस ने हद पार कर दी है। एक आइपीएस अधिकारी को होम क्वारंटाइन कर दिया गया है। यह इंतिहा है। किसी आइपीएस अधिकारी को इस तरीके से हाउस अरेस्ट नहीं किया जा सकता है। इसका अधिकार मुंबई पुलिस को किसने दे दिया। डीजीपी ने कहा कि मुंबई पुलिस ने बिहार पुलिस को कुछ नहीं दिया। एफएसएल की रिपोर्ट, पोस्टमार्टम रिपोर्ट, पंचनामा, सीसीटीवी फुटेज, वीडियो फुटेज, सुशांत के घर से मिले सामान कुछ भी नहीं। यहां तक कि कुछ दिखाने तक को तैयार नहीं है। देने की बात तो दूर रही। महाराष्ट्र पुलिस चाहे कितना भी कुछ कर ले। बिहार पुलिस इस मामले को छोड़ने वाली नहीं है। हम सुशांत की मौत से जुडे सभी तथ्यों को सामने ला कर रहेंगे। पांच अगस्त को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होने वाली है। हम इंतजार कर रहे हैं कि सुप्रीम कोर्ट का क्या फैसला आता है। उसके बाद हम आगे का कदम बढ़ाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

बीजेपी के कार्यकर्ताओं द्वारा जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ताओं पर जानलेवा हमला किया जाना निंदनीय है।

लखीसराय: जिले के पार्टी कार्यालय में जन अधिकार सदस्यों ने की प्रेसवार्ता,दरअसल जाप के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव के दिशा निर्देश पर...

एनडीए को भुगतना पड़ेगा खामियाजा पूर्व सांसद आनंद मोहन के पुत्र चेतन आनंद ने कहा आज

एनडीए को भुगतना पड़ेगा खामियाजा नीतीश कुमार के वादा खिलाफी का । आनंद मोहन को रिहा नही किये जाने से लोग...

आज रविवार को चुनाव को लेकर पत्रकारों संग एसडीओ ने किया बैठक

पालीगंज| रविवार को अनुमंडल कार्यालय में आगामी बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर एसडीओ ने पत्रकारों के संग बैठक बुलाई।जानकारी के अनुसार आगामी...

चार गांवों की मतदाताओं ने लिया बड़ा फैसलारोड नही तो वोट नही के तौर पर मतदान का करेंगे बहिष्कार

पालीगंज: रविवार को पालीगंज प्रखण्ड के बहेरिया निरखपुर गांव स्थित शिव मंदिर परिसर में महेशपुर, छोटकी निरखपुर, बड़की निरखपुर व सिद्धिपूर गांव...

Recent Comments