Monday, October 11, 2021
Homeबिहारसमस्तीपुर के ताजपुर में जल जमाव से लोग हुए परेशान खुरपी-कुदाल ले...

समस्तीपुर के ताजपुर में जल जमाव से लोग हुए परेशान खुरपी-कुदाल ले चलाने लगे जल निकासी अभियान

समस्तीपुर जिला के ताजपुर में पानी से परेशान लोगो ने बांस, बल्ला, खुरपी, कुदाल लेकर माले कार्यकर्ताओं ने खुद जलनिकासी कराए।

माले सिर्फ आंदोलन नहीं बल्कि जन सारोकार के मामले को लेकर ग्राउंड जीरो पर काम करने वाली पार्टी- ब्रहमदेव।
महीने भर से कमर भर जल जमाव से परेशान मोतीपुर वार्ड-7, 10,12 के ग्रामीण भाकपा माले के पहल पर बांस, बल्ला, खुरपी, कुदाल लेकर शुक्रवार को बड़ी संख्या में माले कार्यकर्ता सड़क पर उतरे।

हलांकि माले प्रखण्ड सचिव सुरेन्द्र प्रसाद सिंह द्वारा इसकी जानकारी देने के बाद बीडीओ द्वारा तीन मजदूर भी भेजे गये। लोगों ने बंद पुलिया, नाला आदि को बांस जोड़कर बनाया। विश्वकर्मा चौक से खैनी गोदाम होते हुए गांधी चौक से पूर्व एनएच पुल तक नाले की सफाई की।

इस दौरान कई जगह मिट्टी भराई काटकर नाला चीरकर जलनिकासी कराने में आशिक रूप से सफलता मिली जबकी वार्ड-12 स्थित बांसबाड़ी टोला से जलनिकासी का कोई उपाय नहीं हो सका। इसे प्रशासनिक पहल पर कच्चे नाले चीरकर ही जलनिकासी कराना संभव हो सकेगा।

मौके पर कुशेश्वर शर्मा, अर्जुन शर्मा, किसान नेता ब्रहमदेव प्रसाद सिंह, राजदेव प्रसाद सिंह, संजीव कुमार, सुनील शर्मा, अनील शर्मा, शंभु शर्मा, जवाहर सिंह समेत दर्जनों ग्रामीणों एवं माले कार्यकर्ताओं ने भाग लिया।

भाकपा माले प्रखण्ड सचिव सुरेन्द्र प्रसाद सिंह, किसान नेता ब्रहमदेव प्रसाद सिंह ने कहा कि माले सिर्फ आंदोलन करने वाली पार्टी नहीं बल्कि जन सरोकार के मामले पर समाज के साथ खुद भी सड़क पर उतर, समस्या को निपटारा करने की माद्दा रखती है।

उन्होंने कहा कि बात- बात पर प्रशासन की आलोचना करना, घर में बैठकर सोशल साइट्स पर शेखी बघारने के बजाय माले कार्यकर्ता जनता को गोलबंद कर खुद उनकी भूमिका को बढ़ाने के लिए हमेशा प्रयासरत रहीं है।

ऐसे कार्यों में समाज को यदि प्रशासन का साथ मिल जाता है तो बगैर कोई बिघ्न-बाधा के समस्याएं समाप्त हो जाती है। उन्होंने ताजपुर वासियों से अपील की कि जलनिकासी हेतु खुद सामने आएं, प्रशासन से सहयोग भी लें।

मिल-जुलकर काम करने से ताजपुर प्रखण्ड को जल जमाव मुक्त किया जा सकता है।

विदित हो कि मोतीपुर वार्ड-7, 10,12 आदि के सैकड़ों घर, दलाल, दरवाजा, खेत आदि पीछले करीब एक महीने से जलमग्न है. कुछ ग्रामीण अपने घर-दलान छोड़कर खैनी गोदाम एवं अन्यत्र शरण लिए हुए हैं।

समस्तीपुर से प्रियांशु कुमार की रिपोर्ट

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments