Sunday, October 17, 2021
Homeबिहारबक्सरआम्रपाली बायोटेक और उसके निदेशकों के विरूद्धPNB में 47.97 करोड़ रूपये की...

आम्रपाली बायोटेक और उसके निदेशकों के विरूद्ध
PNB में 47.97 करोड़ रूपये की कथित धोखाधड़ी को ले कर प्राथमिकी दर्ज।

बक्सर /नावानगर :- केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) ने पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में 47.97 करोड़ रूपये की कथित धोखाधड़ी को लेकर आम्रपाली बायोटेक और उसके निदेशकों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज की है. अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. अधिकारियों ने बताया कि पंजाब नेशनल बैंक की शिकायत पर एजेसी ने सुनील कुमार, सुधीर कुमार चौधरी, रामविवेक सिंह, सीमा कुमारी, सुनीता कुमार के विरूद्ध भी मामला दर्ज किया. संबंधित बैंक मूल रूप से ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स था जिसका एक अप्रैल 2020 को पंजाब नेशनल बैंक में विलय हो गया।

CBI प्रवक्ता आर सी जोशी ने यहां कहा कि “आरोप है कि उक्त निजी कंपनी एवं उसके निदेशकों ने 47.97 करोड़ रूपये के कर्जे के साथ हेराफेरी की थी जबकि यह राशि बिहार के बक्सर जिले के नावानगर तथा नालंदा जिले के राजगीर में जैम, सॉस, अचार, कोर्नफ्लैक्स आदि खाद्य उत्पादों के उत्पादन के लिए इकाइयां लगाने के लिए मंजूर कर दी गयी थी. कंपनी एवं उसके निदेशकों की मंशा बैंक को ठगना एवं सरकारी धन को हड़पना था।

प्रवक्ता ने कहा कि बैंक को 35.25 करोड़ एवं उस पर ब्याज राशि का नुकसान हुआ और उसे एक जुलाई 2016 को गैर निष्पादित संपत्ति घोषित किया किया था. उन्होंने कहा, ‘आरोपियों के परिसरों की तलाशी ली गयी जिससे कुछ अभियोजनयोग्य कागजात मिले हैं.  यह बता दें कि सीबीआई की टीम ने नावानगर पहुंच कर भी आम्रपाली ग्रुप के नवानगर में बंद पड़े जैम, सॉस व कॉर्नफ्लेक्स उद्योग परिसर की सघन तलाशी ली थी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments